आजम खान ने अपनी टिप्पणी पर दो बार माफ़ी मांगी :-

0
85

आजम खान ने अपनी टिप्पणी पर दो बार माफ़ी मांगी :-

आजम खान ने अपनी टिप्पणी पर दो बार माफ़ी मांगी :- बीते दिनों संसद में सभापति के सीट पर आसीन भाजपा सांसद रमा देवी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी के मामले में आजम खान ने सोमवार को लोकसभा में दो बार माफ़ी मांगी, चौतरफा धीरे आजम खान को अंततः माफी मांगनी पड़ी स्पीकर ओम बिड़ला ने संसद की गरिमा का हवाला देते हुए भविष्य में उन्हें ऐसा आचरण नहीं करने की हिदायत देकर मामले को खत्म कर दिया |अपनी टिप्पणी पर सभी दलों के सदस्यों से घिरे आजम खान के पास माफी मांगने के अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा था, इस मुद्दे पर सभी दलों की महिला सांसदों ने पार्टी लाइन से ऊपर उठकर इस पर आजम खान को माफी मांगने के लिए बाध्य कर दिया सभी ने उनके इस कृत्य को कड़े शब्दों में निंदा की थी ,सोमवार सुबह स्पीकर ने आजम खान और और रमा देवी के साथ सपा प्रमुख अखिलेश यादव की मौजूदगी में बैठक की जहां विवाद खत्म करने की रूपरेखा तय की गई, निष्कासन पर अड़ी रमा देवी देवी ने आजम की ओर से बिना शर्त माफी मांगने के प्रस्ताव पर अपना मन बदल लिया सुबह ोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही आजम खान ने स्पीकर से कहा आसन के प्रति मेरी कोई गलत भावना न थी ना कभी रही है , मैं दो बार संसदीय कार्य मंत्री चार बार, सांसद 9 बार विधायक और राज्यसभा सांसद रहा हूं मेरे भाषण मेरे आचरण को पूरा सदन जानता है इसके बावजूद अगर आसन को लगता है कि मुझसे भावना में कोई गलती हुई है तो मैं क्षमा मांगता हूं इस पर सभापति ने रामादेवी से कहा कि उनकी क्या राय है आजम के माफी मांगने के बाद रमा देवी ने कहा हेडफोन नहीं लगाने से वह उनकी बात नहीं सकी इस पर स्पीकर ने उनसे दोबारा अपनी बात रखने के लिए कहा इस पर अखिलेश यादव ने आजम का बचाव किया कहा आजम को जो कहना था वह कह चुके हैं रामादेवी इस पर पर अखिलेश से खफा हो गई कहां आजम के मुंह में भी जुबान है खबरदार बीच में ना बोले मैं कठिन संघर्षों से यहां तक पहुंची है मैं गरीबों पिछड़े लोगों के लिए लड़ते आई हूं और यहां यह सब सुनने के लिए नहीं आई हूं जहां तक आजम खान का सवाल है तो इनकी आदत पहले से ही जरूरत से ज्यादा बिगड़ी हुई है आजम खान से दोबारा अपनी बात कहने पर वह बोले की रामादेवी मेरी बहन के समान मेरी बहन के समान है बात एक बार कहे या हजार बार बात वही रहेगी किसी सदस्य के लिए मेरी भावना गलत हो यह संभव नहीं फिर भी किसी कोदुख पहुंचा हो तो मैं क्षमा चाहता हूं सभापति ओम बिड़ला ने इस मामले को आजम खान को भविष्य के लिए हिदायत देकर यहीं खत्म कर दिया|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here