मिशन चंद्रयान-3, अगले साल चांद पर:- » newswalablog

मिशन चंद्रयान-3, अगले साल चांद पर:-

मिशन चंद्रयान-3, अगले साल चांद पर:- इसरो प्रमुख के सिवन ने नए साल पर घोषणा कि चंद्रयान -3 2021 में चंद्रमा की सतह पर कदम रखेगा ,चंद्रयान -3 पर काम चल रहा है इसका प्रक्षेपण अगले साल होगा, इसरो प्रमुख के सिवन ने चंद्रयान 3 के बारे में बताया कि भारत सरकार ने मिशन चंद्रयान -3 को मंजूरी दे दी है और इससे जुड़ी हुई सभी गतिविधियां सुचारू ढंग से चल रही हैं,
इससे पहले केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने 2020 में ही चंद्रयान-3 के प्रक्षेपण का ऐलान किया था, के सिवन बताया कि यह अगले साल चांद कि सतह को छूने के लिए अपने सफर पर निकल सकता है, इसरो प्रमुख ने मिशन चंद्रयान की कुल लागत लगभग 600 करोड रुपए बताया, इसरो प्रमुख ने चंद्रयान3 के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इसकी संरचना बहुत हद तक chandrayaan-2 के जैसी ही होगी इसमें फर्क सिर्फ इतना रहेगा कि chandrayaan-2 में आर्बिटल लैंडर और रोवर मौजूद था जबकि चंद्रयान -3 में आर्बिट नहीं जाएगा ,इसमें केवल लेंडर व रोवर मौजूद रहेंगे, इसके अलावा प्रोपल्शन माड्यूल भी इसमें लैस होगा, इसके अलावा प्रमुख ने यह भी कहा कि भारत का दूसरा अंतरिक्ष प्रक्षेपण केंद्र तमिलनाडु के थूथूकुड़ी में बनेगा, इसके लिए सरकार द्वारा भूमि अधिग्रहण का काम शुरू कर दिया गया है, अभी अंतरिक्ष में उपग्रह यान और राकेट प्रक्षेपित करने का पूरा भार आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर पर ही है ,
उन्होंने 2020 के अपने लक्ष्य के बारे में बताया कि 25 अभियान 2020 के लिए तय किए गए हैं जो मिशन 2019 में अधूरे थे उन्हें भी मार्च 2020 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है , अंतरिक्ष में भारत के अपने पहले मानव मिशन का गगनयान के लिए जानकारी देते हुए kc1 ने कहा चार अंतरिक्ष यात्रियों के चयन की प्रक्रिया पूरी हो गई है, चारों यात्री वायु सेना के हैं, जनवरी के तीसरे हफ्ते में इन्हें प्रशिक्षण के लिए रूस भेजा जाएगा, गगन यान के डिजाइन को अंतिम रूप दिया जा चुका है , हालांकि मानव मिशन भेजने से पहले यान कई दौर की आजमाइश से गुजरेगा,
इसरो की गगनयान की पहली मानव रहित उड़ान को इसी साल आयोजित करने की योजना है, भारत किसी मानव अभियान के तहत अंतरिक्ष में पहले ही प्रयास में मानव यात्री भेजने वाला दुनिया का पहला देश होगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *