यूपी: होमगार्ड वेतन घोटाला ,मंडल कमांडेंट समेत पांच गिरफ्तार:-

0
64
यूपी: होमगार्ड वेतन घोटाला ,मंडल कमांडेंट समेत पांच गिरफ्तार:-

यूपी: होमगार्ड वेतन घोटाला ,मंडल कमांडेंट समेत पांच गिरफ्तार:- उत्तर प्रदेश में होमगार्ड वेतन घोटाले में नोएडा पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, इसमें अलीगढ मंडलीय कमांडेंट राम नारायण चौरसिया, सहायक जिला कमांडेंट सतीश चंद अवैतनिक प्लाटून कमांडर सत्यवीर यादव ,शैलेंद्र कुमार व मोंटू कुमार शामिल है,
2017 से 2019 तक राम नारायण चौरसिया गौतम बुद्ध नगर के जिला कमांडेंट पद पर तैनात थे उस दौरान सबसे ज्यादा अवैध तरीके से होमगार्डों के वेतन की निकासी हुई थी ,राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश के होमगार्ड ड्यूटी का एक हफ्ते में सत्यापन करवाने का निर्देश दिया है, सत्यापन होने तक अक्टूबर तक का होमगार्ड का वेतन रोक दिया गया है, प्रमुख सचिव होमगार्ड अनिल कुमार ने बताया कि अभी तक होमगार्ड का ड्यूटी का रिकॉर्ड केवल जिला कमांडेंट के पास होता था ,अब ऐसी व्यवस्था की जा रही है जिससे स्थानीय स्तर पर भी ड्यूटी का रिकार्ड रखा जा सके ,गौतमबुद्ध नगर के एसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि 2019 में एक प्लाटून कमांडर ने वेतन में अनियमितता की शिकायत की थी जिसके आधार पर जांच की गई ड्यूटी के फर्जी मस्टर रोल बनाकर अवैध तरीके से वेतन निकाला जाता था जिसमें जिला कमांडेंट की स्वीकृति होती थी, पुलिस 5 साल पहले तक की वेतन निकासी जांच करेगी,
शुरुआती जांच में यह वेतन घोटाला लगभग 4 करोड़ से अधिक का है, इससे पहले सूरजपुर स्थित होमगार्ड कमांडेंट कार्यालय में कुछ जरूरी कागजातों को आग लगा दिया गया था और कुछ रिकार्ड जलकर पूरी तरह नष्ट हो गए, जिसकी जांच के लिए बुधवार को गुजरात की फॉरेंसिक टीम बुलाई गई,
होमगार्ड वेतन के इस फर्जीवाड़े में रकम जिला कमांडेंट सहित अवैतनिक प्लाटून कमांडर होमगार्डों में बांटा जाता था इसमें वेतन का आधा हिस्सा जिला कमांडेंट को मिलता था शेष 25% धनराशि सहायक जिला कमांडेंट को और शेष 25 में से अवैतनिक प्लाटून कमांडर और होमगार्ड के होते थे जिसके लिए फर्जी मस्टररोल तैयार किया जाता था और वास्तविक होमगार्ड ड्यूटी के 1:30 से ढाई गुना अधिक संख्या लिखी जाती थी इसमें ड्यूटी के दिन भी बढ़ाना शामिल था, जैसा कोई होमगार्ड 10 कार्य दिवस ड्यूटी किया है तो उसका 20 से 25 कार्य दिवस की ड्यूटी दिखाई जाती थी इस तरह से यह सारा फर्जीवाड़ा होता था |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here