राफेल : मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट की क्लीन चिट:-

0
40
राफेल : मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट की क्लीन चिट:-

राफेल : मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट की क्लीन चिट:-राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट ने बृहस्पतिवार को सुनवाई करते हुए कोर्ट में दायर सभी पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया सुप्रीम कोर्ट ने फ्रांस से मोदी सरकार द्वारा ₹36 लड़ाकू विमान खरीदने के मामले में बड़ी राहत देते हुए दूसरी बार क्लीन चिट दे दी,

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की पीठ ने एकमत से इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में दायर सभी खारिज करते हुए कहा कि हमें सीबीआई को f.i.r. का का का आदेश देने या इस मामले पर जांच बैठाने की जरूरत नहीं है,साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर ने इस मामले पर इस मामले पर राहुल गांधी द्वारा “चौकीदार चोर है” वाले नारे पर सुप्रीम कोर्ट की बात को गलत तरीके से सार्वजनिक तौर पर पेश करने के अवमानना मामले में नसीहत देते हुए उनकी माफी स्वीकार कर उन्हें चेतावनी दी भविष्य में उन्हें सावधानी बरतने की जरूरत है,

सुप्रीम कोर्ट ने राफेल की कीमत की कीमत निर्णय प्रक्रिया और अनिल अंबानी को इसमें आफसेट पार्टनर बनाने के सवालों को खारिज करते हुए अंतर सरकारी करार के और पहलू पर गौर करने से साफ इंकार कर दिया, पीठ ने कहा कि हम जांच के हर पहलू का परीक्षण कर चुके हैं ऐसे में f.i.r. की अपील नहीं टिकती ,जहां तक 36 राफेल विमान की कीमत का सवाल है तो सरकार की तरफ से उपलब्ध साक्ष्यों से हम संतुष्ट हैं ,यह कोर्ट का काम नहीं है कि वह राफेल की कीमत का आकलन करें और कीमत तय करें और वह भी सिर्फ इसलिए कि कुछ लोगों ने शंका जताई हो इस आधार पर इसका आकलन नहीं कर सकते , दस्तावेजों पर गौर करने के बाद पीठ का मानना है कि हम सेब की तुलना संतरे से नहीं कर सकते, विमान की जो कीमत बताई गई है वह तुलनात्मक रूप से कम है, विमान में क्या लैस किया जाएगा और क्या नहीं और कीमतों में आगे क्या जोड़ा जाएगा यह देखना इससे संबंधित उचित अथॉरिटी का काम है ,

सुप्रीम कोर्ट ने कहा बिना कोर्ट का आदेश पढ़े राहुल गांधी ने बयान दिया जो सर्वथा अनुचित है बयान से लगता था कि कोर्ट ने पीएम पर आरोप लगाने की उन्हें इजाजत दी, महत्वपूर्ण राजनीतिक पद पर रहने वाले व्यक्ति को ज्यादा सावधान रहना चाहिए अदालतों को राजनीतिक भाषण में नहीं घसीटा जाना चाहिए ऐसी बात नहीं कहनी चाहिए जो कोर्ट ने न कहीं हो ,

फैसले के बाद पूर्व वायुसेना अध्यक्ष का स्वागत किया और कहा रक्षा खरीद पर इसका सकारात्मक असर पड़ेगा, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहां सत्यमेव जयते कांग्रेश और राहुल गांधी को देश से माफी मांगनी चाहिए, आप ने कोर्ट से माफी मांग ली लेकिन जनता के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए जेपीसी जांच की मांग बकवास है दम है तो राहुल एफ आई आर दर्ज करा कर दिखाए , राहुल गांधी ने कहा इस फैसले पर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस केएम जोसेफ राफेल ने घोटाले की जांच के लिए बड़ा दरवाजा खोल दिया है इस पर जांच होनी चाहिए इस घोटाले की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति गठित की जानी चाहिए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here