कोरोना वायरस का आतंक ,पूरे विश्व में दहशत

कोरोना वायरस का आतंक ,पूरे विश्व में दहशत:- कोरोना वायरस का दहशत पूरे दुनिया में तेजी से फैल रहा है, चीन से शुरू हुई यह खतरनाक बीमारी धीरे-धीरे अपना पांव पुरे विश्व में पसार रही है, चीन में अब तक कोरोना वायरस से 106 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि इस बीमारी की पुष्टि 4515 मरीजों में हुई है,

कोरोना वायरस के महामारी के चलते चीन के हुवॉन शहर में 1000 बेड वाला अस्पताल बनाया जा रहा है यह अस्पताल सिर्फ 7 दिनों के अंदर बनाया जाएगा|

भारत चीन में फंसे अपने नागरिकों को इससे बचाने के लिए उनकी स्वदेश वापसी का प्रयास तेज कर दिया है, बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास ने कहा कि हुबेई राज्य की राजधानी वुहान में फंसे भारतीय छात्रों को एअरलिफ्ट कर वापस लाने का निर्णय लिया गया है ,यहां लगभग 300 छात्र व भारतीय मूल के अन्य लोग यहां फंसे हुए हैं, इन सभी को एयरलिफ्ट करने के लिए मुंबई में एयर इंडिया के 423 सीटर बोइंग जम्बो प्लेन को भेजा जाएगा, चीन से भारत लाए जाने वाले सभी नागरिकों को 14 दिनों तक विशेष निगरानी में डॉक्टरों की संरक्षण में रखा जाएगा , भारत में सभी हवाई अड्डों पर एडवाइजरी जारी कर दी गई है और सभी लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जा रही है , चीन में पिछले 24 घंटों में 26 लोगों की मौत इस खतरनाक वायरस के कारण हो चुकी है, अभी तक वुहान में फंसे किसी भी भारतीय छात्र में कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन यहां उनके अभिभावक घबराए हुए हैं लेकिन विदेश मंत्री एस जय शंकर ने कहा कि अभिभावक घबराएं नहीं ,मैं लोगों से अपील करता हूं कि आप सरकार में विश्वास रखें और जल्द ही भारतीय छात्रों को वापस स्वदेश बुला लिया जाएगा,

केंद्र सरकार ने चीन से लौटे 17 लोगों की देश के विभिन्न अस्पतालों में विशेष निगरानी पर रखा गया है, दिल्ली के दो गाजियाबाद के एक व्यक्ति को दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है, केरल में 5 संदिग्ध व उज्जैन में भी मां बेटे को भर्ती कराया गया है,रूस ने चीन से लगती सीमा अपनी सील कर दी हैं तो अमेरिका, ब्रिटेन जापान समेत अन्य देशों ने चीन से अपने नागरिकों को एअरलिफ्ट कराना शुरू कर दिया है या तो वह उन्हें वापस बुलाने की तैयारी करें रहे हैं,भारत श्रीलंका सहित कई अन्य देश अपने छात्रों और नागरिकों को वापस अपने देश बुलाने की तैयारी कर रहे हैं, भारत अपना विमान अपने नागरिकों को वापस बुलाने के लिए भेज रहा है, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को कहा कि वह अपने देश के नागरिकों की वापसी के लिए जरूरी इंतजाम कर रहे हैं, चीन सहित कोरोनावायरस का आतंक अब तक 18 देशों में में होने की पुष्टि हो चुका है, श्रीलंका में भी कोरोना वायरस से पीड़ित एक मरीज मिलने से वहां की सरकार ने चीन से लोगों का आगमन के साथ वीजा देना बंद कर दिया ,श्रीलंका में एक मरीज में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है , श्रीलंका ने 3 दिन के भीतर कुल 204 छात्रों को विशेष विमान से वापस अपने देश बुला लिया है, कंबोडिया कनाडा में भी मंगलवार को एक-एक मरीज में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है जिसके बाद वहां की सरकारें अलर्ट हो गई है, जापान में भी विदेश मंत्री ने भी कहां कि जापान ने भी इस खतरनाक बीमारी से निपटने की तैयारी कर ली है और जल्द ही विशेष विमान से चीन में फंसे जापानी लोगों को वापस अपने देश बुलाया जाएगा|

कोरोना वायरस के महामारी के चलते चीन के हुवॉन शहर में 1000 बेड वाला अस्पताल बनाया जा रहा है यह अस्पताल सिर्फ 7 दिनों के अंदर बनाया जाएगा|

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *